ब्लॉगिंग: ब्लॉग पोस्ट के लिए नई सामग्री का चयन कैसे करें ?

अगर आप एक ब्लॉगर हैं और नियमित रूप ब्लॉगिंग करते हैं तो आपके ब्लॉग पाठकों के साथ-साथ गूगल आदि जैसे सर्च इंजनों में अच्छी रैंकिंग के लिए ताज़ा और नवीनतम सामग्री बहुत महत्वपूर्ण हो जाती है। लेकिन, जब आप बहुत सोच-विचार करने के बाद भी कुछ नया नहीं लिख पा रहे हैं। दिमाग के घोड़े दौड़ा-दौड़ा कर थक गये हैं किंतु फिर भी कुछ समझ में नहीं आ रहा है कि क्या लिखें ? ऐसे में आप क्या करते हैं? यह लेख इसी बारे में है, जब आप ब्लॉगिंग कर रहे हों तो गति और निरंतरता कैसे बनाए रखें?

यदि आप ब्लॉगिंग शूरू कर चुके हैं तो आप इस बात से भलीभांति परिचित होंगे कि अपने ब्लॉग में पाठकों की दिलचस्पी बनाए रखने के लिए नए विषय से संबंधित सामग्री कितनी महत्वपूर्ण है। इस लेख में हम इस बात पर चर्चा करने जा रहे हैं कि आप अपने ब्लॉग के लिए निरंतर नई और उपयोगी सामग्री का चयन कैसे कर सकते हैं?

पहली शर्त है कि आप जिस बारे में लिखने जा रहे हैं, वह एक ऐसा विषय होना चाहिए जिसके बारे में आप भावनात्मक रूप से जुड़े हों या कम से कम से उस विषय में रुचि तो अवश्य रखते हों। यदि आपने ब्लॉगिंग को अपने नए करियर के रूप में चुना है, तो आप किसी भी ऐसी चीज के बारे में लिखकर खुद को धोखा तो नहीं देना चाहेंगे जिसमें आपकी रुचि शून्य हो। अन्यथा, आप बहुत जल्द ही ब्लॉगिंग से ऊब जाएंगे और बहुत संभवना है कि ब्लॉगिंग छोड़कर आप पुनः अपने पुराने काम पर भी लौट सकते हैं!

आपके लेखन के माध्यम से आपकी भावनाएँ, विचार और मनोभाव प्रकट होते हैं, इसलिए आपके पाठक किसी भी ऐसे विषय के प्रति आपकी उदासीनता को अवश्य नोटिस कर लेंगे जो आपको उबाऊ लगता है। अपने व्यक्तित्व और रुचियों तथा ज्ञान के अनुसार लिखना आरंभ कीजिए। जबरदस्ती लेखन से आप ब्लॉगिंग की दुनिया में कभी भी स्थापित नहीं हो सकते।

एक बार जब आप अपना मुख्य विषय चुन लेते हैं – अपने ब्लॉग पर पोस्ट करना शुरू कर दीजिए और इसे हर दिन कम से कम एक बार करने की आदत डालने की कोशिश कीजिए। जरूरी नहीं कि हर बार यह एक लंबी पोस्ट ही होनी चाहिए; यह आज के समाचार पत्र में पढ़ी गई किसी घटना पर एक संक्षिप्त टिप्पणी हो सकती है अथवा आज नाश्ते के समय आपने टीवी पर समाचारों में जो खंड देखा है, उस पर भी कोई टिप्पणी हो सकती है। अपने ब्लॉगिंग कैरियर को एक विशाल कंटेनर जहाज के रूप में देखिए, जिसे शुरू-शुरू में आगे बढ़ाने के लिए बहुत प्रयास करने की आवश्यकता होती है। सबसे पहले, आप केवल एक या दो फुट हिलेंगे और बाद में आप धीरे-धीरे आगे बढ़ेंगे और फिर एक क्षण ऐसा भी आएगा कि जब आप अपनी पूरी गति और लय को प्राप्त कर लेंगे। इसके बाद आप पाएंगे कि ब्लॉगिंग की यह यात्रा बहुत आसान और रोमांचक है और फिर आप इतनी चेजी से आगे बढ़ेंगे कि रुकना मुश्किल हो जाएगा।

फिर भी, भले ही आप अपने विषय को कितनी भी अच्छी तरह से क्यों न जानते हों, आप किसी न किसी बिंदु पर नए इनपुट और विचारों की कमी का सामना अवश्य करने जा रहे हैं, तो आइए वेब-सामग्री अथवा ब्लॉगिंग कंटेट के बारे में कुछ विचार-मंथन करने के लिए निम्नलिखित बिंदुओं पर चर्चा करते हैं –

1. अपने ब्लॉग विषय से संबंधित वर्तमान हलचल पर नजर रखें:

देखें कि आपके विषय के संबंध में वर्तमान में क्या चर्चा चल रही है और इस स्थिति पर अन्य ब्लॉगर्स का क्या कहना है? आप इसके लिए गूगल सर्च का उपयोग कर सकते हैं। किसी ब्लॉग एग्रीगेटर पर जाकर संबंधिक विषय से संबंधित पोस्ट खोज सकते हैं। इसके साथ ही आप अन्य ब्लॉग लेखों पर टिप्पणी कर सकते हैं और ब्ल़ॉग लेखकों तथा पाठकों को अपने ब्लॉग पर राय व्यक्त करने के लिए आमंत्रिक कर सकता हैं। आपको अन्य ब्लॉगों से सीखते रहना चाहिए।

2. अन्य ब्लॉगर्स के साथ संपर्क:

एक बार जब आप अन्य ब्लॉगर्स के साथ संपर्क स्थापित कर लेते हैं, तो आपके पास कुछ समय तक लगातार लिखते रहने के लिए लगभग पर्याप्त इनपुट सामग्री उपलब्ध हो जाएगी। इसके बाद लिखने के लिए सामग्री की खोज करने लिए बहुत ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ेगी। क्या आप अभी भी अटके हुए हैं, तो आप स्थानीय समाचार पत्र या ऑनलाइन पत्र-पत्रिकाओं में अपने ब्लॉग के मुख्य विषय (niche) से संबंधित समाचार लेख भी देख सकते हैं।

3. अपने ब्लॉग के मुख्य विषय (niche) से संबंधित फ़ोरम में शामिल होनाः

अपने ब्लॉग के मुख्य विषय से संबंधित कुछ फ़ोरम आदि में शामिल होते समय केवल उन लोगों को चुनें जो आपके विशेष क्षेत्र पर सबसे अधिक केंद्रित हैं। आप अन्य लोगों के साथ भी बातचीत में शामिल हो सकते हैं जो आपकी रुचियों और विषय के बारे में चर्चा करते हैं। यह कुछ लिखने के लिए एक प्रश्नोत्तर बैंक बनाने और किसी टॉपिक के बारे में दिलचस्प चर्चा करने का एक शानदार तरीका है। इसका एक अतिरिक्त लाभ यह भी है कि आपके फ़ोरम पोस्ट से आपके ब्लॉग के लिए काफी आसानी से ट्रैफ़िक भी मिल जाता है जो आपके लिए काफी उपयोगी सिद्ध हो सकता है।

अपनी दैनिक पोस्टिंग आदत को बनाए रखने का प्रयास करें। प्रमुख सर्च इंजन ताजा और नई सामग्री पसंद करते हैं और ऐसा होने पर आपके ब्लॉग को बार-बार अच्छी रैंकिंग के साथ दिखाने की संभावना बढ़ जाती हैं, जिसके परिणामस्वरूप आपको अतिरिक्त ट्रैफ़िक भी मिलेगा। किसी भी बलॉग की सफलता के लिए गलातार ट्रैफिक का आना पहली शर्त है।

ट्रैफ़िक के विषय पर भविष्य के किसी लेख में चर्चा की जाएगी, इसलिए अभी इसके बारे में चिंता न करें। बस लिखते रहें…पोस्ट करते रहें और उस गति बढ़ाते रहें। इससे पहले कि आप इसे और अच्छे से जानें, आप एक स्थापित ब्लॉगर बन चुके होंगे! शुभकामनाओं के साथ।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top